मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना ने सारिका को बनाया कलर उद्यमी

Posted on 12 Jan, 2018 3:13 pm

देवास की सारिका चंद्रात्रे के जीवन में खुशहाली के रंग नुमाया हो गए हैं। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना से जुड़कर वह एक सफल उद्यमी बन गई है। दसवीं पास सारिका चन्द्रात्रे एक गृहणी है लेकिन पुरूषों के बराबर खड़े होकर काम करना चाहती थी। सारिका के पति अजय चन्द्रात्रे कई वर्षों से पेन्ट की दुकान में काम करते थे। सरिका भी इस कार्य में रूचि लेने लगी और रंगों के मेल को समझने लगी। इस कार्य को व्यवसाय के रूप में करना चाहती थी सारिका लेकिन हमेशा धनाभाव आड़े आ जाता था।

देवास में अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति से सारिका को मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना की जानकारी मिली। उसने बिना समय गवाएँ तुरन्त 'कलर उद्यम' के लिए समिति में अपना आवेदन दिया। पंजाब नेशनल बैंक से सारिका को 25 लाख का ऋण स्वीकृत किया गया। आज सारिका अपने पति अजय चंद्रात्रे के साथ सफल उद्यमी बन गई है। यही नहीं, आज वह 6 से 7 लोगों को रोजगार भी उपलब्ध करवा रही है।

उद्यमी सारिका अपने दोनों बच्चों को अच्छे स्कूल में पढ़वा रही है। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के कारण उसका जीवन खुशहाल हो गया है। सारिका अपने व्यवसाय में कलर बनाने के साथ ही वालपुटटी बनाने का काम भी करती है। उसके द्वारा बनाये गए कलर कई प्रसिद्ध कम्पनियों के कलर के बराबर खरीदे जाते हैं। जो कोई भी एक बार उसके कलर का उपयोग करता है, वह बार-बार उसी की मांग करता है।

अत्मविश्वास से भरपूर सारिका अब अपने इस कारोबार को बड़े स्तर पर ले जाना चाहती हैं। जल्द ही पुराना ऋण जमाकर एक करोड़ का ऋण लेने की योजना बना रही है सारिका।

सक्सेस स्टोरी (देवास)

साभार – जनसम्पर्क विभाग मध्यप्रदेश