शिवराज,शंकर और लल्लू को भी मिला पक्का घर

Posted on 13 Mar, 2018 4:46 pm

 

मजदूरी के सहारे जीवन-यापन करने वालों के लिए पक्के मकान की तमन्ना करना दिवास्वप्न से कम नहीं होता। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना ने इस दिवास्वप्न को साकार कर दिखाया है।अब मध्यप्रदेश में इस योजना से गरीबो को आसानी से पक्के घर मिल रहे हैं।

सागर जिले के जैसीनगर ब्लॉक के चार टौरिया गाँव के मजदूर शिवराज लोधी का चार सदस्यों का परिवार है। यहाँ-वहाँ मजदूरी कर बमुश्किल परिवार का भरण पोषण कर पाते थे। झोपड़ीनुमा घर की दशा को देखकर ग्राम पंचायत के माध्यम से चार टौरिया में ही वर्ष 2017 में पक्के आवास की मंजूरी मिल गई। तीन किश्त में सरकार से राशि मिली तो शिवराज ने स्वयं मजदूरी कर अपना पक्का मकान बनाया। आज पूरे परिवार के साथ पक्के मकान में रह रहे हैं।

आगर मालवा जिले के ग्राम निपानिया के निवासी हैं शंकर लाल। इनके परिवार के सदस्य बताते हैं कि प्रधानमंत्री आवास योजना से वर्ष 2016-17 में पक्के मकान के लिए मिली 1 लाख 20 हजार रूपये की राशि। इस राशि से न केवल पक्का मकान बन गया है, बल्कि शौचालय भी बन कर तैयार हो गया है। शंकरलाल समेत उनका पूरा परिवार अपना पक्का घर मिलने पर प्रफुल्लित है।

छिन्दवाड़ा जिले के विकासखण्ड चौरई की ग्राम पंचायत बाड़ीबाड़ा के निवासी लल्लू कहार कल-तक घर गली के बाजू में टूटी-फूटी बाँस की टपरिया बनाकर रहते थे। रात भर जागकर बच्चों की देखभाल करने के बाद भी अक्सर बीमारी से जुझ रहे थे। इस बीच ग्राम के सरपंच सचिव एवं रोजगार सहायक लल्लू कहार इनकी मदद के लिए आगे आए। इन्हें पक्के मकान के लिए राशि मंजूर कराने में इन लोगों ने मदद की। आज लल्लू कहार का परिवार खुद के पक्के मकान में रह रहा है।

 

साभार – जनसम्पर्क विभाग मध्यप्रदेश